Income Tax (आयकर) क्या है और कितने प्रकार का होता है?

आपने Income Tax के बारे में तो जरुर सूना होगा। लेकिन क्या आपको ये पता है की Income Tax (आयकर) क्या है और कितने प्रकार का होता है? अगर आप इसके बारे में अभी तक नहीं जानते है तो आज का ये भी आर्टिकल आपके लिए बहुत ही फायदेमंद होने वाला है। क्योकि आज हम आपको Income Tax के बारे में पूरी जानकारी देने वाले है।

income tax kya hai

Income Tax क्या है और कितने प्रकार का होता है?

हर साल बजट में देश के वित्त मंत्री Income Tax (IT) मतलब की आयकर की बात करते हैं। कभी Income Tax के स्लैब में बदलाव किया जाता है तो कभी Income Tax की छूट को बढ़ाया-घटाया जाता है।

इसके अलावा Income Tax (IT) बचत के लिये निवेश के विकल्प की बात की जाती है तो कभी Tax बचत के लिए जारी कुछ सुविधाओं को खत्म करने या कुछ नई सुविधा शुरू करने के बारे में बात की जाती है।

एक बात यहाँ पर ध्यान देने वाली है कि भारत में रहने वाला हर व्यक्ति भारत सरकार को Tax जरुर देता है। हालाकि Tax देने का तरीका थोडा अलग अलग होता है। जो बिजनेस करते है वो अपना अलग से tax return करते है और जो नौकरी में होते है उनकी सैलरी से टैक्स की रकम अपने आप कट जाती है।

अगर आप भी Income Tax क्या है इसके बारे में जानकारी लेना चाहते है तो हम आपको इसके बारे में विस्तार से बता रहे हैं।

Income Tax क्या है?

Income Tax यानी आयकर हमारी आमदनी पर लगने वाला Tax है। हर साल हमें अपनी आमदनी में से एक निर्धारित हिस्सा केंद्र सरकार को देना होता है। Income Tax अलग-अलग आमदनी वाले लोगों पर अलग-अलग तरीके से लागु किया जाता है।

अब आपके मन में ये सवाल आया होगा की आखिर सरकार ये Tax नागरिक से क्यों वसूलती है। दरअसल कोई भी सरकार अपने अधिकार क्षेत्र में रहने वाले नागरिक से और संस्थानों जो नागरिक सेवा उपलब्ध कराती है उन सभी पर उसे काफी रकम खर्च करना पड़ता है। जैसे की इसमें बिजली-पानी, सड़क से लेकर सुरक्षा और प्रशासन पर आने वाले सभी खर्च शामिल हैं।

अब आपको Income Tax क्या है और ये लोगो से क्यों वसूल अ किया जाता है इसके बारे में तो आपको पता चल ही गया होगा। अब चलिए बात करते हा Income Tax के प्रकार के बारे में।

Aadhar Card में Adress और Mobile नंबर कैसे बदले?

Income Tax कितने प्रकार का होता है?

वैसे भारत में दो तरह के Tax लिए जाते है। पहला दिखाई देने वाला कर और दूसरा होता है दिखाई न देने वाला कर। दुसरे प्रकार का Tax दिखाई नही देता है लेकिन यह ऐसा Tax है जिसे हर भारतीय को भरना ही पड़ता है। इन Tax को सरकारी भाषा में प्रत्यक्ष (Direct Tax) और अप्रत्यक्ष (Indirect Tax) के नाम से जाना जाता है।

1) Direct Tax (दिखाई देने वाला) – प्रत्यक्ष कर जैसे आयकर यानी Income Tax, जो आपकी कमाई से सीधे सरकारी खजाने में जाता है। इसके लेने से सरकार के कई तरीके होते है- जैसे Salary से कटता है, बैंक ब्याज के रूप में, किराया इत्यादि देने वाले यह Tax काट कर सीधे सरकार के खजाने में जमा होने के बाद आपको TDS Certificate दिया जाता है, यह एक तरीका है। और दूसरा तरीका, आपको खुद से Bank जाकर Tax जमा करने के बाद Return दिखाना होता है।

2) Indirect Tax (दिखाई न देने वाला) – Tax का ये दूसरा प्रकार बिजनेस करने वालों के लिए होता है। इसमें GST, Sels Tax, VAT, Excise Duty इत्यादि शामिल होते है। इस Tax का ऐसा प्रकार है जिसे भारत का हर नागरिक प्रदान करता है सिर्फ रूप अलग – अलग होता है।

इसे इस तरह से भी समझा जा सकता है कि हम जब बाजार में कुछ खरीदने जाते है तो जो मूल्य हम सामान का देते है उसमे Tax का भी हिस्सा लगाया जाता है। इस तरह हर भारतीय इस प्रकार के Tax को देता है।

आखिर में :-

आशा करता हु की आपको आज की हमारी ये Post Income Tax (आयकर) क्या है और कितने प्रकार का होता है? जरुर पसंद आई होगी और आप इसके बारे में विस्तार से जान गए होंगे। फिर भी अगर आपका कोई सवाल है और आप हमसे पूछना चाहते है तो आप हमसे संपर्क कर सकते है।

अगर आप ऐसी ही जानकारी सबसे पहले पाना चाहते है तो आप हमें Subscribe जरुर करे।

मैं इस ब्लॉग का संस्थापक और एक पेशेवर ब्लॉगर हु। इस ब्लॉग पर मैं नियमित रूप से अपने पाठकों के लिए उपयोगी और मददगार जानकारी शेयर करता हु।

Leave a Comment